शनिवार, 6 जनवरी 2018

व्यक्ति की पहचान उसके सामाजिक अवस्थान से होती है जिसमें उसकी शिक्षा का महत्त्वपूर्ण स्थान होता है। शिक्षा का उद्देश्य इंसान को बेहतर इंसान बनाना होता है ताकि उसमें तार्किक विश्लेषण और मानवीय संवेदना का सहज विकास संभव हो सके।
अब हमें इस बात को अच्छी तरह से समझ लेना होगा कि क्या शिक्षा का उद्देश्य व्यवस्था के लिए सिर्फ मशीन तैयार करना है या फिर ज़िंदगी के लिए इंसान...