रविवार, 4 फ़रवरी 2018

महात्मा गाँधी ने कहा था कि हमारा भविष्य हमारे वर्तमान पर निर्भर करता है। आज हमारी धरती कई तरह की समस्याओं का सामना कर रही है और अपने वज़ूद को बनाए रखने के लिए संघर्ष कर रही है। इस धरती पर इंसान एकमात्र ऐसा जीव है जो इसकी रक्षा अपने विवेक के इस्तेमाल से कर सकता है। 
मैत्री वाजपेयी और रमीज़ इस्लाम ख़ान द्वारा लिखित और निर्देशित लघु फ़िल्म "कार्बन" ज़रूर देखें और सोचे कि क्या वाक़ई हम अपनी धरती को छोड़कर किसी और ग्रह पर जाकर बस सकते हैं यदि नहीं तो फिर इसे बचाने की कोशिश आज से ही क्यों न शुरू कर दें...





विमलेश त्रिपाठी द्वारा रचित कविता "गाय-कथा" पर आधारित कविता विडीओ 


शनिवार, 6 जनवरी 2018

व्यक्ति की पहचान उसके सामाजिक अवस्थान से होती है जिसमें उसकी शिक्षा का महत्त्वपूर्ण स्थान होता है। शिक्षा का उद्देश्य इंसान को बेहतर इंसान बनाना होता है ताकि उसमें तार्किक विश्लेषण और मानवीय संवेदना का सहज विकास संभव हो सके।
अब हमें इस बात को अच्छी तरह से समझ लेना होगा कि क्या शिक्षा का उद्देश्य व्यवस्था के लिए सिर्फ मशीन तैयार करना है या फिर ज़िंदगी के लिए इंसान...